BUSINESS

भारत में लॉन्च हुआ ट्यूनकोर
(Yogesh Gautam) Dainikkhabre.com Tuesday,07 July , 2020)

Mumbai News, 08 July 2020 : ट्यूनकोर ने भारत में अपने लॉन्चल के साथ अंतर्राष्ट्री य विस्ता र को जारी रखने की घोषणा की है। ट्यूनकोर स्वतंत्र कलाकारों के लिए एक अग्रणी डिजिटल संगीत वितरण सेवा प्रदाता कंपनी है, जिसकी पैरेंट कंपनी बिलीव है।  Tunecore.in भारत में रहने वाले कलाकारों को स्ट्रीमिंग सेवाओं और डिजिटल डाउनलोड स्टोर से कमाई करने की इजाजत देती है, वह भी स्थानीय मुद्रा (रुपये) में। इसके अलावा, Tunecore.in स्थानीय कंटेंट  पेश करेगी, जो भारत के स्वतंत्र कलाकारों के समुदाय की जरूरतें पूरी करेगी। इसमें स्थानीय संगीत उद्योग के महारथियों, जैसे अचीले फोर्लर और मेई थॉमस के लिखित मार्गदर्शन होंगे, जो स्वतंत्र कलाकारों को व्यावहारिक कदम, शिक्षा और सलाह प्रदान करते हैं।

इस नए विस्तार के साथ, ट्यूनकोर इंडिया के कलाकार दुनिया भर में ट्यूनकोर के फैले डिजिटल स्टोर तक अपना संगीत वितरित कर सकते हैं। इसमें स्पॉटिफाई, आईट्यून्स/ एप्प ल म्यूजिक, यू-ट्यूब म्यूजिक, अमेज़न म्यूजिक, डीजर शामिल हैं, साथ ही उनका म्यू जिक भारत के स्थानीय स्टोर जियोसावन पर भी होगा और जल्द ही गाना, हंगामा और विंक पर भी आएगा। ट्यूनकोर ने 150 से अधिक डिजिटल स्टोर और 100 से अधिक देशों में स्ट्रीमिंग सेवाओं के साथ भागीदारी की है, जो स्वतंत्र कलाकारों को अवसर देती है कि वे महत्वपूर्ण और फैलते वैश्विक बाजार, जैसे भारत, एशिया, दक्षिण अमेरिका, अफ्रीका और रूस, साथ ही अमेरिका और यूरोप में अपने संगीत साझा करें और बेचें। ट्यूनकोर प्रति दिन दस लाख डॉलर से अधिक का भुगतान करता है और चूंकि 2006 में कंपनी की नींव पड़ी थी, इसलिए ट्यूनकोर के कलाकार अब तक सामूहिक रूप से 1.8 बिलियन डॉलर से अधिक कमा चुके हैं और बहुत कम सालाना शुल्क पर उनके अधिकार और कमाई, दोनों सौ प्रतिशत सुरक्षित हैं।

फोक ऐंड वर्ल्ड म्यूजिक बैंड माटी बानी के स्वतंत्र कलाकार कार्तिक शाह कहते हैं, “2016 में अपने स्व-शीर्षक अल्बम माटी बानी की रिलीज के समय से ही हम अपने गीतों के लिए ट्यूनकोर का इस्तेमाल करते आ रहे हैं। इस प्लेटफॉर्म के बारे में हमें जो सबसे अधिक पसंद है, वह है हमारे गानों को अपलोड करने में आसानी और हमारी कमाई की निगरानी संबंधित पारदर्शिता। ये दोनों हमें प्रशंसकों तक पहुंचने में फौरन मदद करती हैं। ट्यूनकोर संगीतकारों के लिए एक वरदान है, जो अपने संगीत को दुनिया भर में पहुंचाना चाहते हैं, साथ ही स्वतंत्र भी रहना चाहते हैं।’

भारतीय ग्राहकों के पास ट्यूनकोर की सुदृढ़ सेवाओं की पहुंच होगी, जिसमें यूट्यूब साउंड रिकॉर्डिंग रेवेन्यू कलेक्शन सर्विस, फेसबुक/ इंस्टाग्राम म्यूजिक और ट्यूनकोर फैन रिव्यूज और ट्यूनकोर का विश्व स्तरीय कस्टमर सपोर्ट है। इसके अलावा, भारतीय कलाकारों को संगीत-उद्योग की अनुभवी हीना कृपलानी का जमीनी सहयोग और उद्योग का ज्ञान भी हासिल होगा, जो भारत में ट्यूनकोर की कंट्री मैनेजर के रूप में सेवायें देंगी। हीना कृपलानी, कंट्री मैनेजर, ट्यूनकोर इंडिया ने कहा, ‘ट्यूनकोर और बिलीव का आर्टिस्ट  सेंट्रिक अप्रोच मेरी खुद की अप्रोच से मेल खाती है।  भारत के पास हमेशा से एक अद्वितीय संगीत-क्षेत्र रहा है और मैं खुश हूं कि हम स्थानीय व स्वतंत्र कलाकारों की सेवा करने में सक्षम हैं, जिनके लिए स्थानीय जरूरतों और वैश्विक पहुंच को ध्यान में रखकर खासतौर से टूल्स  तैयार किए गए हैं।” ‘TuneCore.in का लक्ष्य समाधान का हिस्सा बनना है और हम अपने स्टोर और स्ट्रीमिंग साझेदारों के साथ भारत में संगीत क्षेत्र का लोकतांत्रिकरण करने में मदद कर रहे हैं। साथ ही हम संभव बना रहे हैं कि हर कलाकार को सरहद पार सुना जाए और उन्हें  उनके अधिकार व राजस्वं भी पूरे प्राप्तव हों।”

बिलीव के सीईओ डेनिस लैडगाइलरे कहते हैं, ‘लगातार बढ़ते अंतरराष्ट्रीय ग्राहक और निरंतर उभरते संगीत उद्योग के साथ, हमारा लक्ष्य सभी कलाकारों को उनके करियर के सभी दौर में सहयोग करते रहना है। स्थानीय स्तर पर उन्हें वे संसाधन और टूल्सस मुहैया कराना है, जो उन्हें कामयाब बनाने के लिए जरूरी हैं। भारत में हमारा वैश्विक विस्तार स्थानीय स्तर पर कलाकारों को हर संभव तरीके से सहयोग करने की मुहिम का समर्थन करता है। ट्यूनकोर डिजिटल सेवाओं से इकट्ठी हुई सौ फीसदी राशि कलाकारों तक पहुंचाती है, और इसी ने कलाकारों की मदद करने के मामले में कंपनी को अव्वल बनाया है, जिनके वे हकदार हैं।’

इंट्रोडक्टारी ऑफर के रूप में, भारत में ट्यूनकोर के कलाकारों को नियमित वितरण मूल्य पर 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। यानी सिंगल्स  499 रुपये (नियमित रूप से 999 रुपये) में उपलब्धर होंगे और एल्ब म के लिए पहले साल का वितरण 1499 रुपये (नियमित रूप से 2899 रुपये) में उपलब्धप है।

ट्यूनकोर इंडिया ब्रुकलिन, न्यूयॉर्क स्थित सेवा प्रदाता के लिए आठवां अंतरराष्ट्रीय विस्तार है। कंपनी ने 2015 में ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के बाजार में अपनी शुरुआत की, और 2016 में जर्मनी, फ्रांस और इटली में आई। वहीं ट्यूनकोर जापान और ट्यूनकोर कनाडा के रूप में स्थानीय सेवाओं की शुरुआत क्रमशः 2012 और 2011 में हुई। ट्यूनकोर के लोगो डाउनलोड के लिए यहां क्लिक करें।

ट्यूनकोर के विषय में
ट्यूनकोर स्वतंत्र संगीतकारों के लिए एक वैश्विक मंच है, ताकि वे श्रोता बना सकें, और प्रचार सेवाओं की श्रृंखला, प्रकाशन प्रबंधन, वितरण सेवा और प्रौद्योगिकी के साथ करियर गढ़ सकें। ट्यूनकोर संगीत वितरण सेवाएं कलाकारों और प्रबंधकों को स्पॉटीफाई, एपल म्यूजिक, अमेज़न म्यूजिक, जियोसावन, डीजर, गूगल प्ले और 150 से भी अधिक डाउनलोड और स्ट्रीमिंग स्टोर के माध्यम से संगीत बेचने में मदद करती हैं, साथ ही वह बहुत कम सालाना शुल्क पर अधिकार और कमाई, दोनों को सौ प्रतिशत सुनिश्चित रखती है। ट्यूनकोर म्यूजिक पब्लिशिंग एडमिनिस्ट्रेशन गीतकारों को लाइसेंसिंग, रजिस्ट्रेशन, दुनिया भर से रॉयल्टी कलेक्शन और फिल्म, टीवी, विज्ञापन, वीडियो गेम्स, वगैरह में काम के अवसर दिलाने में मदद करती है। ट्यूनकोर आर्टिस्ट सर्विसेस पोर्टल ऐसे साधनों एवं सेवाओं का एक ग्रुप प्रदान करता है, जो कलाकारों को अपने शिल्प को बढ़ावा देने, प्रशंसकों को जोड़ने और उनके संगीत को सुनने में सक्षम बनाता है। ट्यूनकोर, जो बिलीव का अंग है, का मुख्यालय न्यूयॉर्क के ब्रुकलिन में है। इसके अन्य दफ्तर लॉस एंजेलिस, नैशविले, न्यू ऑरलिएंस, अटलान्टा और ऑस्टिन में है। इसका संचालन ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जापान, कनाडा, जर्मनी, फ्रांस, इटली, रूस, भारत और ब्राजील में होता है। अतिरिक्त जानकारी के लिए कृपया देखें Tunecore.in

बिलीव के विषय में
बिलीव दुनिया की अग्रणी डिजिटल म्यूजिक कंपनी है, जो कलाकारों और प्रबंधकों को उनकी तरक्की के हर स्तर पर श्रोता और करियर बनाने में मदद करती है। यह एक उत्कृष्ट प्रौद्योगिकी संगठन है, जो दुनिया भर में वितरण करता है और अपने साझेदारों को डिजिटल मार्केटिंग सेवाएं मुहैया कराता है। 45 देशों में इसके कार्यालय हैं और यहां 1200 से अधिक पेशेवर काम करते हैं। बिलीव कई ब्रांड, लेबल और कंपनियों का मालिक है। इसमें बिलीव डिस्ट्रीब्यूशन, ट्यूनकोर, न्यूक्लियर ब्लास्ट, नैव, ऑलप्वॉइंट्स हैं। 2013 में जनरल मैनेजर विवेक रैना के नेतृत्व में भारत में बिलीव की स्थापना हुई और मुंबई, नई दिल्ली और चेन्नई में 140 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। https://www.believemusic.com/.

Videos

slider by WOWSlider.com v8.6